महाराष्ट्रीयन कुणबी पाटिल समाज ने शिवाजी जयंती पर निकाला विशाल पैदल मार्च


भोपाल  कुणबी पाटिल समाज सेवा समिति मध्य प्रदेश द्वारा छत्रपति शिवाजी महाराज की 390 जयंती के अवसर पर पैदल मार्च निकाला यह मार्च विधि विधान से पूजा कर  गैमन इंडिया से शिवाजी चौक तक निकाला गया इस मार्च में कुणबी पाटिल समाज के महिला पुरूष एवं बच्चों ने बड़ी संख्या में भाग लिया जगह-जगह फूल मालाओं से मार्च का स्वागत हुआ ढोल ताशे घोड़े के साथ भगवा ध्वज हाथ में लिए बड़ी संख्या में  लोगों का हुजूम चल रहा था आकर्षक सजी घोड़ों की बग्गी पर  बैठे शिवाजी महाराज का रूप धरे योद्धाओं ने लोगों को आकर्षित किया,यह मार्च का नेतृत्व समाज के युवा सदस्यों ने किया


संगठन के प्रवक्ता प्रकाश सुरेश पाटील ने वीर शिवाजी पर अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा  छत्रपति शिवाजी का जन्म 19 फरवरी 1630 में शिवनेरी दुर्ग में हुआ था. उनका पूरा नाम शिवाजी भोंसले था. उनकी माता जीजाबाई तथा पिता शाहजी भोंसले थे. उनका जन्म शिवनेर दुर्ग में हुआ था. शिवाजी कई कलाओं में माहिर थे, उन्होंने बचपन में राजनीति एवं युद्ध की शिक्षा ली थी. 6 जून 1674 को शिवाजी मुगलों को परास्त कर लौटे थे और उनका मराठा शासक के रूप में राज्याभिषेक हुआ था. शिवाजी महाराज का विवाह 14 मई, 1640 में सइबाई निम्बालकर के साथ लाल महल, पुना में हुआ था. उनके पुत्र का नाम संभाजी था. स्वतंत्रता संग्राम में बहुत से लोगों ने शिवाजी के जीवन से प्रेरणा लेकर अपना तन, मन धन न्यौछावर कर दिया था. संगठन के अध्यक्ष सुनील पाटील सचिव समाधान पाटील  महामंत्री महेश पाटिल  कोषाध्यक्ष प्रकाश आधार पाटील सहित कार्यकारिणी के सदस्य रैली में सम्मिलित हुए 


Prakash Patil


Media Relations Officer


 


Popular posts from this blog

Madhya Pradesh Tourism hosts its first Virtual Road Show

गूगल की नई AR  टेक्नोलॉजी से अब आप अपने घर बैठे किसी भी जानवर का 3D व्यू देखिये | 

अखिल भारतीय विद्दार्थी परिषद का मुख्यमंत्री को ज्ञापन।