Posts

Showing posts from April, 2020

पुलिसकर्मियों की सुरक्षा को लेकर मध्यप्रदेश मानव अधिकार आयोग ने शासन से मांगे जवाब।

भोपाल निवासी सुखविन्दर सिंह लल्ली के आवेदन पर मध्यप्रदेश शासन एवं पुलिस महानिवेशक से मध्यप्रदेश मानव अधिकार आयोग, भोपाल ने 29 अप्रैल तक प्रतिवेदन माँगा है जिसमे उन्होंने कोरोना वायरस के संक्रमण से उत्पन्न परिस्थितियों से निपटने के लिए ड्यूटी पर तैनात पुलिस अधिकारियों एवं पुलिसकर्मियों की सुरक्षा सम्बंधित प्रबंधों के सम्बन्ध में प्रश्न किये हैं। आयोग ने निम्नांकित चार बिन्दुओं पर प्रतिवेदन माँगा है:- ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मियों की संख्या कितनी है एवं कितने मास्क क्रय कर उपलब्ध कराए गए हैं? क्या पुलिसकर्मियों को उचित गुणवत्ता के पी.पी.ई. किट्स उपलब्ध कराए गए हैं? इस प्रयोजन हेतु कितने किट्स क्रय किये गए हैं? प्रदेश में कोरोना संक्रमित पुलिसकर्मियों की संख्या कितनी है एवं उनके उपचार की क्या व्यवस्था की गयी है? मृत्यु होने पर शासन ने परिवार की सहायता हेतु क्या योजना तैयार की है? पुलिसकर्मियों पर हमला एवं अन्य अपराध होने पर क्या कार्यवाही की व्यवस्था है?

अखिल भारतीय विद्दार्थी परिषद का मुख्यमंत्री को ज्ञापन।

Image
कोरोना महामारी एवं सम्पूर्ण लॉकडाउन के चलते प्रदेश के विद्दार्थियों को आ रही समस्याओं को लेकर अखिल भारतीय विद्दार्थी परिषद के प्रदेश मंत्री नीलेश सोलंकी ने मेल द्वारा मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान जी को ज्ञापन दिया। अभाविप ने माननीय मुख्यंत्री जी से यह मांगे करी हैं :- • प्रदेश में माध्यमिक शिक्षा बोर्ड परीक्षा 10वीं व 12वीं तथा उच्च शिक्षा प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों में अपने पाठ्यकमों से संबंधित आगामी परीक्षाओं के विषय में संशय की स्थिति बनी हुई है, जिसे स्पष्ट करने हेतु स्कुली शिक्षा एवं उच्च शिक्षा विभाग द्वारा निर्देश जारी कर अपनी नीति स्पष्ट करें साथ ही प्रदेश की स्थिति सामान्य होने पर परीक्षाओं के आयोजन एवं मुल्याकंन कार्यो में सेवा निवृत प्राध्यापकों एवं शैक्षिक योग्यता प्राप्त निजी विद्यालयों व महाविद्यालयों के प्राध्यापकों को सम्मिलित किया जाये, जिससे परीक्षा परिणाम शीघ्रता से घोषित किये जा सके । • प्रदेश के विद्यालय, महाविद्यालय एवं विश्वविद्यालय में अध्ययनरत विद्यार्थियों के परीक्षा शुल्क, प्रवेश परीक्षा शुल्क एवं आगामी सत्र की शिक्षा शुल्क माफ किया जाये। • प्

गूगल की नई AR  टेक्नोलॉजी से अब आप अपने घर बैठे किसी भी जानवर का 3D व्यू देखिये | 

गूगल की नई AR  टेक्नोलॉजी से अब आप अपने घर बैठे किसी भी जानवर का 3D  व्यू देखिये |  कोरोना वायरस के चलते हम घर से बाहर चिड़ियाघर देखने तो जा नहीं सकते | गूगल के इस नए ar 3D  फीचर से अब हम जानवरों   को अपने घर में बुला सकते है | गूगल में चिड़िया घर का अनुभव करने के लिए :- 1 गूगल पर   किसी भी जानवर का नाम सर्च करें जैसे "tiger" 2 विकिपीडिया के डिस्क्रिप्शन के नीचे स्क्रॉल करें | 3 वहां बने जानवर के 3D  मॉडल को दबायें | 4 घर में चिडयाघर का मज़ा लें |

UK में कोरोना वायरस से होने वाली मौतों में एक दिन में 27% की बढ़त।

Image
        UK में कोरोना वायरस से होने वाली मौतों में एक दिन में 27% की बढ़त। सरकार का कहना है कि   अब तक अस्पतालों में 1789 लोग अपनी जान गवाँ चुके हैं। इसका   कारण ब्रिटेन की शुरुवाती लापरवाही बताई जा रही है। ढाई लाख मौतों का अंदाज़ा लगाने वाले आंकड़ों के सामने आने के बाद प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने देश में सख्त कानून लागू   कर दिए हैं। मंगलवार को लंदन के एक अस्पताल से एक 13 वर्ष के बच्चे की मौत की खबर आई। यह ब्रिटेन की अब तक की सबसे काम उम्र की मौत है।

अलामी मरकज़ बंग्लेवाली मस्जिद (निजामुद्दीन) में हुइ जनसमारोह से हुईं 7 मौतें।

Image
        अलामी मरकज़ बंग्लेवाली मस्जिद ( निजामुद्दीन ) में हुइ जनसमारोह से हुईं 7 मौतें। 13 से 15 मार्च को दिल्ली के निजामुद्दीन में एक अंतर्राष्ट्रीय जनसमारोह आयोजित किया   गया था जिसमे अनेक देशो से आए श्रद्धालुओं समेत कुल 2000 लोगों ने भाग लिया। भाग लेने वाले श्रद्धालु आयोजन के बाद देश के अनेक राज्यों में यात्रा कर चुके हैं। अब तक इन श्रद्धालुओं में से 7 लोगों   की मृत्यु हो गयी है जिनमे से 6 तेलंगाना में और 1 कश्मीर में थे। 5 से अधिक और राज्यों से 24 पॉजिटिव मामले सामने आ रहे हैं। अब तक 1500 से अधिक लोगों को मस्जिद में ही क्वॉरंटीन कर दिया गया है और पुलिस करीबन 800 श्रद्धालुओं की खोज कर रही है जो अन्य राज्यों में वापस चले गए। मरकज़ के मुखिया मौलाना साद कंडालवी   के खिलाफ हज़ारो लोगों की जान खतरे में डालने के लिए FIR दर्ज कर ली गयी है।

भोपाल में कोरोना वायरस का चौथा केस सामने आया।

भोपाल में कोरोना वायरस का चौथा केस सामने आया है| इसके चलते भोपाल में सख्त लोकडाउन लगू किया गया है। मधय प्रदेश में  कुल 86 केस सामने आए हैं। जिसमें सबसे ज़्यादा केस इंदौर शहर से है (63)। जिसके चलते भोपाल में भी कोरोना का खतरा बढ़ गया है। भारत में कुल 1974 कनफर्म केस हैं। दिल्ली में हुई घटना के कारण इसमें बढ़ोतरी आ सकती है।           भारत में कोरोना अभी स्टेज 3 पर है। इसे रोकने के लिए हमें लॉकडाउन का पालन करना होगा। कोरोना से बचने के लिये क्या करे ? जब तक ज़रूरी ना हो घर से बाहर न निकलें। अगर आपको सर्दी या खाँसी है तो मुँह पर मास्क लगायें।  हाथों को कम से कम 20 सेकंड तक साबुन से धोयें। अपने चेहरे के आस-पास हाथ ना ले जायें। बाहर हमेशा सेनिटाइज़र लेकर चलें।