एम्स, भोपाल में मानसिक रोग एवं आपदा प्रबन्धन पर कार्यशाला


02 जनवरी 2020 को एम्स, भोपाल में मानसिक रोग विभाग के द्वारा अधिकारियों/कर्मचारियों के लिए मानसिक रोग एवं आपदा प्रबन्धन पर कार्यशाला आयोजित कर प्रशिक्षण दिया गया। कार्यशाला का उद्घाटन प्रो.(डॉ.) सरमन सिंह, निदेशक एम्स, भोपाल एवं श्री जॉर्ज वी. जोसफ उपनिदेशक, आपदा प्रबन्धन संस्थान, भोपाल द्वारा डीन अकादमिक प्रो. अरनीत अरोरा की उपस्थिति में किया गया। प्रशिक्षण का संचालन डॉ. रोशन सुतार एवं डॉ. स्नेहिल गुप्ता, सहायक प्राध्यपक, मानसिक रोग विभाग एम्स, भोपाल द्वारा किया गया। एम्स भोपाल के मानसिक रोग विभाग एवं डिजास्टर मैनेजमेंट इंस्टिट्यूट, भोपाल के सहयोग से राज्य आपदा प्रबन्धन एवं मानसिक पहलु का प्रशिक्षण हुआ। प्रशिक्षण का मुख्य उद्देश्य आपदा से उत्पन्न होने वाली मानसिक परेशानियों के विषय में अवगत कराना एवं उनसे निपटने में मानसिक रोग विशेषज्ञ स्वास्थ्य सेवा कर्मियों, बचाव दल एवं स्वेच्छिक सेवा कर्मियों के योगदान पर प्रकाश डाला गया। इसमें लगभग 30 प्रशिक्षणाथियों ने भाग लिया। कार्यशाला में प्री एवं पोस्ट आंकलन, फीडबैक लिया गया एवं एम्स मानसिक स्वास्थ्य सुविधाओं का मैदानी दौरा भी कराया गया। एम्स भोपाल देश के प्रमुख संस्थानों में से एक है जिसमें डिजास्टर मैनेजमेंट इंस्टिट्यूट, भोपाल के सहयोग से अस्पताल के कर्मियों को आपदा प्रबन्धन प्रशिक्षण कराया गया एवं जो अस्पताल आपदा प्रबंधन का विभिन्न स्तरों पर व्यवस्थित मॉडल विकसित कर रहा है।