38 आदिवासी क्रीड़ा परिसरों को 13 करोड़ रुपये से अधिक स्वीकृत

भोपाल : मंगलवार, जनवरी 28, 2020, 14:47 IST


आदिवासी अंचलों में आदिम-जाति कल्याण विभाग द्वारा संचालित 38 क्रीड़ा परिसरों को सुविधा सम्पन्न बनाने के लिए 13 करोड़ 30 लाख रुपये की राशि मंजूर की गई है। प्रत्येक परिसर को 35 लाख रुपये मंजूर किये गये है। परिसर प्रबंधकों को गुणवत्ता और निर्धारित मापदण्ड के अनुसार सामग्री क्रय करने के निर्देश दिये गये हैं। इसके अलावा, 7 क्रीड़ा परिसरों को अंतर्राष्ट्रीय स्तर की खेल सुविधाएँ उपलब्ध कराये जाने के प्रयास किये जा रहे हैं।


ये परिसर खरगोन जिले के भगवानपुरा, सीहोर जिले के सीहोर, अलीराजपुर जिले के उदयगढ़, बड़वानी जिले के बड़वानी, सेंधवा, पाटी और निवाली, बुरहानपुर जिले के खकनार, धार जिले के डही, बाग, तिरला और धार, झाबुआ जिले के रामा, झाबुआ, राणापुर और थांदला, खण्डवा जिले के आशापुर, राजुल, खरगोन जिले में महेश्वर, खरगोन और गोगांवा, बालाघाट जिले के बैहर, बालाघाट और छिंदवाड़ा जिले के जुन्नारदेव, डिण्डोरी जिले के मेहन्दवानी और डिण्डोरी, मण्डला जिले के मोहगांव, कटनी, सिवनी, सीधी, सिंगरौली, अनूपपुर, होशंगाबाद, रतलाम जिले में रतलाम और सैलाना, उमरिया जिले के पाली और उमरिया और श्योपुर जिले में श्योपुर हैं।


123 आदिवासी आवासीय विद्यालयों में ऑनलाइन होगा प्रवेश


आदिम-जाति कल्याण विभाग के अंतर्गत मध्यप्रदेश स्पेशल एण्ड रेसिडेंसियल एकेडमिक सोसायटी द्वारा संचालित 123 आवासीय विद्यालयों में शैक्षणिक सत्र 2020-21 में कक्षा-6 और 9वीं में प्रवेश के लिये एक फरवरी, 2020 तक ऑनलाइन आवेदन भरे जा सकेंगे। पूर्व में आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि 29 जनवरी तय की गयी थी जिसे बढ़ाकर एक फरवरी किया गया है। इन विद्यालयों में कक्षा-6 के लिये 8,400 और कक्षा-9 के लिये 2569 सीटों के लिये आवेदन लिये जा रहे हैं। आदिवासी अंचल के क्षेत्रीय अधिकारियों को इन विद्यालयों में बालिकाओं के आवेदन करवाये जाने निर्देश दिये गये हैं।


विशिष्ट विद्यालयों की सूची एवं विद्यालयवार रिक्त सीटों का विवरण वेबसाइट https://www.mponline.gov.in पर उपलब्ध है। इन विद्यालयों की प्रवेश परीक्षा 28 फरवरी को होगी। विद्यार्थी आवेदन कॉमन सर्विस सेंटर और विभागीय वेबसाइट http://www.tribal.mp.gov.in/mptaas के माध्यम से जमा करा सकते हैं। प्रवेश परीक्षा के लिये विद्यार्थियों से किसी भी प्रकार का शुल्क नहीं लिया जायेगा।


Popular posts from this blog

Madhya Pradesh Tourism hosts its first Virtual Road Show

गूगल की नई AR  टेक्नोलॉजी से अब आप अपने घर बैठे किसी भी जानवर का 3D व्यू देखिये | 

अखिल भारतीय विद्दार्थी परिषद का मुख्यमंत्री को ज्ञापन।