20 कारें आज चैम्पियनशिप के लिए भरेंगी फर्राटा, इनमें भोपाल की दो कारें

राधारमण इंडियन कार्टिंग रेस



भोपाल।  राधारमण समूह एवं इम्पीरियल सोसायटी आफ इनोवेटिव इंजीनियर्स के सहयोग से  आयोजित हो रही  राधारमण  इंडियन कार्टिंग रेस में आज शेष बची हुई कार्ट्स का टेक्नीकल परीक्षण हुआ। तीन दिनों तक चले इस परीक्षण में देश के 50 से अधिक जाने माने इंजीनियरिंग काॅलेजों की कार्ट्स ने हिस्सा लिया। कठिन परीक्षण से गुजरने के बाद जजेस ने 20 कारों को 25 जनवरी को होने वाली फाइनल रेस के लिए चयनित किया। फाइनल रेस दो श्रेणियों में होगी पहली श्रेणी इंजन वाली कार्ट्स की होगी तथा दूसरी इलेक्ट्रिक कार्ट्स की। इन दोनों ही श्रेणियों में प्रथम, द्वितीय व तृतीय पुरस्कार अलग-अलग दिये जाएंगे।
आज टेस्टिंग ट्रेक पर इन कारों के टेक्निकल परीक्षण को देखने न केवल भोपाल बल्कि प्रदेश के बाहर से भी बड़ी संख्या में विद्यार्थी और आॅटोमोबाइल के शौकीन पहुंचे। भारी भीड़ के चलते आयोजकों को व्यवस्था बनाने में थोड़ी मशक्कत करनी पड़ी। आज अंग्रेजी के आठ आकार बनाकर जहां स्टेयरिंग टेस्ट को लिया गया तो वहीं गाड़ियों को दौड़ाकर एक स्पीड टेस्ट  भी लिया गया। इस टेस्ट के लिए महिन्द्रा एंड महिन्द्रा, टीवीएस व अन्य बड़ी कंपनियों से आए जजेस मौजूद थे। दिन भर चली इस प्रक्रिया के बाद फिट पाई गई कारों को कल होने वाली फाइनल रेस के लिए चुना गया।
इस प्रतियोगिता के विजेताओं को ट्राॅफी, प्रशस्ति पत्र एवं  पुरस्कार प्रदान किये जाएंगे।  














Prakash Patil