नीलमणि दुबे प्रान्तीय प्राच्य संस्कृत छात्र परिषद के निर्विरोध प्रदेशाध्यक्ष निर्वाचित

परिषद मंडल ने स्वागत कर दी शुभकामनाएं



भोपाल- नीलमणि दुबे को प्रान्तीय प्राच्य संस्कृत छात्र परिषद का निर्विरोध प्रदेशाध्यक्ष  निर्वाचित किया गया है जिसकी अध्यक्षता परिषद के संयोजक डॉ आर.के. देवालिया जी एवं निवर्तमान अध्यक्ष प्रणब शर्मा जी उपाध्यक्ष श्री गोविंद शर्मा जी कार्यकारिणी अध्यक्ष श्री सुधीर पाराशर जी उपाध्यक्ष श्री मधुसूदन शर्मा जी कार्यालय मंत्री कपिल शर्मा जी कोषाध्यक्ष श्री घनश्याम शर्मा जी एवं परिषद के सचिव श्री सुनील शास्त्री जी एवं प्रवक्ता पंडित गोरेलाल शर्मा जी है। परिषद अध्यक्ष बनने के बाद नीलमणि दुबे ने कहा है कि हमारी सनातन धर्म की को संस्कृत भाषा  देववाणी वेद पुराण एवं शास्त्र की भाषा को उन्नति की ओर इस भाषा को जन भाषा बनाने का संकल्प लिया है एवं प्राच्य संस्कृत पध्दति  द्वारा के पढ़े जाने वाले विद्यार्थियों को भी हर संभव मदद का आश्वासन दिया परिषद का मुख्य लक्ष्य है सनातन धर्म के वेद पुराण शास्त्र जो की संस्कृत विषय में उल्लेख हैं उनका सनातन धर्म को मानने वाले लोग ज्यादा से ज्यादा संस्कृत भाषा में उपयोग करें।  जिससे लोग आसानी से वेद शास्त्र एवं पुराणों का अध्ययन कर सकें सनातन धर्म की पद्धति के अनुसार चलें। कांग्रेस  जिला अध्यक्ष श्री कैलाश मिश्रा जी, कांग्रेस जिला ग्रामीण अध्यक्ष श्री अवनीश भार्गव जी एवं राहुल दुबे ने नीलमणि दुबे को अध्यक्ष बनने पर शुभकामना देकर स्वागत किया।


Popular posts from this blog

Madhya Pradesh Tourism hosts its first Virtual Road Show

UK में कोरोना वायरस से होने वाली मौतों में एक दिन में 27% की बढ़त।

गूगल की नई AR  टेक्नोलॉजी से अब आप अपने घर बैठे किसी भी जानवर का 3D व्यू देखिये |