कबाड़ से जुगाड़ प्रतियोगिता सह प्रदर्शनी


क्षेत्रीय प्राकृतिक विज्ञान संग्रहालय, (राष्ट्रीय प्राकृतिक विज्ञान संग्रहालय, नई दिल्ली का क्षेत्रीय केन्द्र), भोपाल द्वारा कक्षा 6वीं से 8वीं तक के छात्रों के लिए ''कबाड़ से जुगाड़ प्रतियोगिता सह प्रदर्शनी'' का आयोजन 19 दिसम्बर, 2019 को किया गया। इस प्रतियोगिता में भोपाल, सीहोर के विभिन्न स्कूलों के 31 छात्रों ने गैर-जैवअपघटित अवशिष्ट की सहायता से बनाये मॉडल प्रदर्शित किए। 


प्रतिभागियों ने गैर-जैवअपघटवीय अपशिष्ट सामग्री जैसे प्लास्टिक की बोतल, सी.डी., सामानों की पैकिंग से निकलने थर्माकोल, लोहा, चायकप, पाइप, पेन, चम्मच, प्लास्टिक जार, सीमेंट आदि की सहायता से विभिन्न प्रकार के माडॅल जैसे मोर, पेड़ों में सिंचाई की ड्रिप तकनीक, पालीथीन से बनी चप्पल, बुलेट प्रूफ जैकेट, मैगजीन होल्डर, फ्लावर पॉट, पेन स्टैण्ड, पक्षी का घोंसला, बायो गैस प्लांट, संगीत यंत्र जैसे ढोलक, सितार एवं तबला, गमला, कूलर आदि प्रदर्शित किए।


मास्टर मुकेश सिंह, मॉडल हायर सेकेण्डरी स्कूल, टी. टी. नगर, भोपाल को प्रथम पुरस्कार विजेता घोषित किया गया। पर्व शर्मा, दा आईकानिक स्कूल, भोपाल को  व्दितीय पुरस्कार विजेता घोषित किया गया। मंयक सिंह, मॉडल हायर सेकेण्डरी स्कूल, टी. टी. नगर, भोपाल और अनमोल मिश्रा एवं अनीमेष कुमार, बाल भारती पब्लिक स्कूल, भोपाल को तृतीय पुरस्कार विजेता घोषित किया गया। भाव्या गुप्ता, सेंट जेवियर सीनियर सेकेण्डरी स्कूल, भेल, भोपाल; मनजीरी खेडकर, सरदार पटेल पब्लिक स्कूल, मिसरोद, भोपाल; काव्या कौशल, आई.ई.एस. पब्लिक स्कूल, रातीबड़ और अतिथि कटीयार, सरदार पटेल पब्लिक स्कूल, मिसरोद, भोपाल का सांत्वना पुरस्कार हेतु चयन किया गया। 


डॉ. विपिन व्यास, एसोसिऐट प्रोफेसर, बरकतउल्ला विश्वविद्यालय, भोपाल; श्री सी. एस. दुबे, पूर्व उप वन सरंक्षक, मध्यप्रदेश शासन भोपाल और संग्रहालय की वैज्ञानिक-बी डॉ. बीनिश रफत इस प्रतियोगिता के निर्णायक मण्डल के सदस्य थे। प्रतियोगिता के दौरान संग्रहालय प्रभारी डॉ. मनोज कुमार शर्मा और कार्यक्रम के समन्वयक एवं वैज्ञानिक-बी श्री मानिक लाल गुप्त उपस्थित थे।  


(डॉ. बीनिश रफत)
वैज्ञानिक-सी


 


 


 


Popular posts from this blog

Madhya Pradesh Tourism hosts its first Virtual Road Show

गूगल की नई AR  टेक्नोलॉजी से अब आप अपने घर बैठे किसी भी जानवर का 3D व्यू देखिये | 

अखिल भारतीय विद्दार्थी परिषद का मुख्यमंत्री को ज्ञापन।