स्वामी विवेकानंद लाइब्रेरी में किताब "द सागा ऑफ़ इंडियस ग्रेटेस्ट हीरोइन " पर चर्चा शनिवार को

स्वामी विवेकानंद लाइब्रेरी में इस शनिवार, 30 नवंबर, शाम 3 बजे दीदा: द वारियर क्वीन ऑफ़ कश्मीर" के ऑथर आशीष कॉल के साथ चर्चा का आयोजन किया जा रहा है | वॉइस एंड विज़न फाउंडेशन द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में श्री राकेश दीक्षित ऑथर आशीष कॉल से इस किताब के बारे में चर्चा करेंगे |


               यह किताब वीमेन पावर के बारे में हैं | भारत के इतिहास में रानी लक्ष्मी बाई के बारे में सभी जानते हैं, लेकिन रानी दीदा की कहानी शायद बहुत काम लोग जानते हैं | लोहार की प्रिंस्ली स्टेट में जन्मी दीदा बचपन से ही दिव्यांग थी जिसके कारण उनके परिजनों ने भी उनको नकार दिया | उनका पालन पोषण उनकी नौकरानी द्वारा किया गया |


            शरीर से पूरी तरह सक्षम न भी होने के बावजूद उन्होंने युद्ध की कला सीखी | उन्होंने बहुत सारी खेल प्रतियोगिताओं में भी अपना लोहा मनवाया | कश्मीर के राजा क्षेमगुप्त से विवाह उपरान्त वह कश्मीर की रानी बनी और उनकी ज़िन्दगी ने एक नया मोढ़ लिया | न सिर्फ उन्होंने एक माँ, पत्नी और रानी होने का धर्म निभाया बल्कि उन्होंने उस समय की राजनीती में भी अहम किरदार निभाया |
श्री आशीष कॉल पिछले 24 सालो से मीडिया और एंटरटेनमेंट में कार्य कर रहें है |


             इन्होने कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी से बी ए किया है और आईआईएम लखनऊ से मैनेजमेंट डेवलपमेंट प्रोग्राम भी किया है |  उन्होंने काइज़ेन बिज़नेस स्कूल से एम बी ए और वेलिंकेर से मीडिया और एडवरटाइजिंग में डिप्लोमा  किया है | वह फोकलोर एंटरटेनमेंट के संस्थापक एवं क्रिएटिव ऑफिसर हैं |


            अपने 24 सालों के करियर में वह विभिन्न पदों पर कार्येरत रहें जिनमे उल्लेखनीय हैं : सी ई ओ स्टारबलॉकबस्टर,  सी ई ओ ऑफ़ एसोसिएशन ऑफ़ मोशन पिक्चर्स एंड टी वी प्रोडूसर्स एसोसिएशन, सी ई ओ ऑफ़ प्रकाश झा प्रोडक्शंस। सेशन शनिवार शाम 3:00 बजे से शुरू होगा एवं यह मेंबर्स और नॉन मेंबर्स के लिए ओपन रहेगा |


यतीश भटेले


सहा. प्रबंधक


स्वामी विवेकानंद लाइब्रेरी, भोपाल


Popular posts from this blog

Madhya Pradesh Tourism hosts its first Virtual Road Show

गूगल की नई AR  टेक्नोलॉजी से अब आप अपने घर बैठे किसी भी जानवर का 3D व्यू देखिये | 

अखिल भारतीय विद्दार्थी परिषद का मुख्यमंत्री को ज्ञापन।