संविधान दिवस के अवसर पर सीआईएम पीजी ग्रुप द्वारा सेमिनार का आयोजन






संविधान दिवस के अवसर पर सीआईएम पीजी ग्रुप द्वारा सेमिनार का आयोजन किया गया। सेमिनार में मुख्य वक्ता श्री सुमेध थोरात (पुणे) ने स्लाइड शो के माध्यम से संविधान के अनुच्छेदों के बारे में समझाया। साथ ही उन्होंने बताया कि सभी नागरिकों को स्वतंत्रता के  मूल सिद्धांतों का सम्मान करना चाहिए। साथ ही मौलिक अधिकारों  की प्रासंगिकता बनाए रखने के लिए किसी भी प्रकार के दबाव में आए बिना प्रखरता के साथ प्रश्र किये जाने चाहिए।  कार्यक्रम के अन्य वक्ता एडवोकेट नामदेव नागले ने मौलिक अधिकारों के बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि हमें संवैधानिक अधिकारों की सैद्धांतिक जानकारी तो है पर उसके क्रियान्वयन की हमें जानकारी नहीं है। हर्षवर्धन गौतम ने संविधान के प्रस्तावना के उद्देश्य की विस्तार से जानकारी दी। अंत में केन्द्रीय जेल अधीक्षक दिनेश नरगावे ने समाज में विषमताओं को दूर करने के लिए मिलकर काम करने का आहवान किया। आभार प्रदर्शन ग्रुप के सदस्य दिगम्बर हुमने ने किया। यह जानकारी सीआईएम पीजी ग्रुप के दिगंबर हुमने एवं अविनाश बनसोड़े ने दी।