सोलर प्लांट: एक साल में बनेगी 50 लाख की बिजली


बड़ा तालाब स्थित वी.आई.पी रोड़ पर शुरू हुई टेस्टिंग, एक साल में होगा 75 हजार यूनिट बिजली का उत्पादन


भोपालः भोपाल स्मार्ट सिटी डेवलपमेंट काॅर्पोरेशन लिमिटेड द्वारा बनाये जा रहे सोलर पाॅवर प्लांट का काम लगभग पूरा हो गया है। अब प्लांट की टेस्टिंग की जा रही है। इस प्लांट से प्रतिवर्ष 50 लाख की बिजली बनेगी। एक साल में प्लांट 75 हजार यूनिट का उत्पादन करेगा। इस प्लांट की लागत 2.50 करोड़ रुपए है।


स्मार्ट सिटी के 100 डेज प्रोग्राम के तहत पाॅवर प्लांट का काम किया जा रहा है। अगले सप्ताह तक इसका कार्य पूर्ण हो जाएगा। इसके लिए वी.आई.पी. रोड के किनारे रिटेनिंग वाॅल पर 1540 पेनल लगाये गये हैं। इनकी टेस्टिंग अंतिम दौर में चल रही हैं। इसके लिए स्मार्ट सिटी कार्य उर्जा विकास निगम के माध्यम से कराया जा रहा हैं। यह कार्य 500 किलो वाॅट का होगा। 


एक साल में 50 लाख की बिजली का उत्पादन


स्मार्ट सिटी कंपनी का सोलर पाॅवर प्लांट शहर का पहला सौर्य उर्जा से चलने वाला पाॅवर प्लांट होगा, जो एक साल में 50 लाख बिजली का उत्पादन करेगा। 5 साल में प्लांट की लागत वसूल हो जाएगी। इस प्लांट से एक साल में लगभग 75 हजार यूनिट बिजली बनेगी। प्लांट की टेस्टिंग का कार्य लगभग पूरा हो गया है।


कर्बला पंप हाउस और आसपास होगी बिजली


सोलर पाॅवर प्लांट से जनरेट होने वाली बिजली का इस्तेमाल कर्बला पंप हाउस मंे किया जाएगा। इसके साथ ही तालाब के किनारे लगी स्मार्ट डेकोरेटिव लाईट्स को भी प्लांट से बिजली सप्लाई करने की तैयारी है। इससे कर्बला पंप हाउस का बिजली का खर्च खत्म हो जाएगा। उल्लेखनीय है कि प्लांट का भोपाल स्मार्ट सिटी डेवलपमेंट काॅर्पोरेशन लिमिटेड ने आई.एस.बी.टी और नगर निगम मुख्यालय पर रूप टाॅप सोलर पेनल लगाए है।