बच्चों की सुरक्षा









हम सभी का नैतिक दायित्व है बच्चों की सुरक्षा करना- डॉ फादर जॉन 














 

आज बी एस एस एस नोडल चाइल्ड लाइन एवं पल रिसर्च एंड वेल्फेयर संस्था ने रेज़ एंड राइज़ केंपेन के अंतर्गत बच्चों पर हो रहे शोषण और अत्याचार रोकने हेतु कार्यक्रम आयोजित किया । इसके अंतर्गत यह अभियान चलाया कि जहां भी किसी भी तरह की बालकों पर शारीरिक या मानसिक प्रताड़ना  देखो तुरंत आवाज़ उठाओ। बढ़ते बाल  शोषण की समस्या आज समाज के लिए चिंता का विषय बन  गई है इस हेतु अभियान में विशेष तौर पर एन सी सी के छात्रों को साथ लेकर कदम बढ़ाया गया। शौर्य पथ, बी एस एस एस कॉलेज मे हुए इस कार्यक्रम में प्राचार्य डॉ फादर जॉन पी जे ने कहा कि हमारा नैतिक दायित्व है कि बाल सुरक्षा के लिए हम सभी जागरूक हों तभी समाज में बढ़ता यह अत्याचार रुक सकेगा। पल संस्था के अध्यक्ष अतुल विश्वकरमा ने कहा कि समाज में बाल शोषण हमारे लिए कलाँ स्वरूप है युवाओं को इस घिनोने कृत्य के खिलाफ आवाज़ उठाने के साथ वास्तव में बाल सुरक्षा हेतु कदम उठाने होंगे। इस अवसर पर चाइल्ड लाइन की निदेशक सरिता आनंद, निदान संस्था की अध्यक्ष कलामोहन, चाइल लाइन नोडल बी एस एस एस सिटी को ओर्डिनेटर कमल ठाकुर ने भी बाल सुरक्षा संबन्धित अपने विचार रखे। सी बी एस सी की रीजनल डाइरेक्टर रीनू जोशी ने उपस्थित युवा जन और समुदाय को सूरक्षित बच्चे सुरक्षित भोपाल की शपथ ग्रहण कराते हुए मासूम की रक्षा करना कर्तव्य बताया।    









 

 

 

 



 


 




 




 

Attachments area

 


 



 



Popular posts from this blog

Madhya Pradesh Tourism hosts its first Virtual Road Show

UK में कोरोना वायरस से होने वाली मौतों में एक दिन में 27% की बढ़त।

गूगल की नई AR  टेक्नोलॉजी से अब आप अपने घर बैठे किसी भी जानवर का 3D व्यू देखिये |