सबघानी ने पेश की मानवता की मिसाल


संत नगर में  गुरुवार को जैन नगर स्थित निवासी श्रीमती अमिता श्रीवास्तव का  कैन्सर की बीमारी के कारण कल रात आकस्मिक निधन हो गया, जिनकी शवयात्रा आज सुबह 11 बजे रखी गयी थी,परंतु लालघाटी एरिया के  मुक्ति रथ/वाहन को चलाकर पार्थिव शरीर को छोला रोड विश्रामघाट घाट तक पहुचाने के लिए ड्राइवर को होशंगाबाद से आने में 3 घंटे का समय लग रहा था, ऐसे में रिश्ते समझ सेवी एवं शिक्षाविद अनंद सबधानी ने खुद शव वाहन चलाकर उनके निवास स्थान से विश्राम घाट तक पहुँचाया। कल उनके पार्थिव शरीर को रात भर रखने के लिए रेफ़्रीजरेटर की आवश्यकता थी, ऐसी दुःख की घड़ी में ग्रीन एकर्स सोसायटी के नवनियुक्त पदाधिकारी अमर लाल ठाकुर, हीरानंद आहूजानी ने सीनियर सिटिज़न होते हुए इंसानियत का परिचय देते हुए, खुद रेफ़्रीजरेटर अपने हाथों से मुक्ति रथ में रखवाया। इससे तो बहुत कुछ सीखने को  मिला है और मुसीबत के वक्त  में जो समाज के काम आता है वो ही सच्चा समाजसेवी कहलाता है‌।