एसबीआई ग्रुप ने भोपाल में ‘एसबीआई ग्रीन मैराथन‘  के तीसरे संस्करण को दिखाई हरी झंडी


ऽ राजेंद्र कुमार, डीजी (साइबर सैल), भोपाल, एसबीआई के भोपाल सर्कल के सीजीएम राजेश कुमार और पर्वतारोही मेघा परमार व भावना डेहरिया ने ध्वज फहराकर मैराथन को किया रवाना
ऽ एसबीआई ग्रीन मैराथन में शामिल हुए लगभग 4000 प्रतिभागी
ऽ 5 किलोमीटर की दौड़ में शामिल होने वाले धावकों के बिब्स में बीज रखे गए, ताकि मैराथन के बाद कर सकें वृक्षारोपण 
ऽ स्वच्छ और हरित शहर को बढ़ावा देने के प्रयासों के तहत धावकों को दी गई 100 प्रतिशत पुनर्नवीनीकरण सामग्री से बनी टी-शर्ट।


भोपाल - 16 फरवरी, 2020ः पर्यावरणीय स्थिरता और हमारी आने वाली पीढि़यों के लिए बेहतर जीवन सुविधाएं उपलब्ध कराने से संबंधित जुनून के जश्न को मनाने के लिए देश के सबसे बड़े बैंक- भारतीय स्टेट बैंक ने ‘एसबीआई ग्रीन मैराथन‘ के तीसरे संस्करण का आयोजन किया। बैंक का यह प्रमुख वार्षिक कार्यक्रम 16 फरवरी, 2020 को भोपाल में आयोजित किया गया, जहां राजेंद्र कुमार, डीजी (साइबर सैल), भोपाल, एसबीआई के भोपाल सर्कल के सीजीएम राजेश कुमार और मध्यप्रदेश की प्रथम माउंट एवेरेस्ट फतेह करने वाली महिला पर्वतारोही मेघा परमार व भावना डेहरिया ने ध्वज फहराकर मैराथन को रवाना किया। एसबीआई ग्रीन मैराथन में लगभग 4000 प्रतिभागी शामिल हुए।
रविवार सुबह भोपाल के तात्या टोपे स्टेडियम में बड़ी संख्या में लोग 5 किलोमीटर, 10 किलोमीटर और 21 किलोमीटर की दौड़ में शामिल होने के लिए उमड़े, जिन्होंने हरित भविष्य की प्रतिज्ञा के साथ मैराथन में हिस्सा लिया। अन्य प्रतिभागियों के साथ बैंक के वरिष्ठ अधिकारियों ने भी मैराथन में भाग लिया। स्वच्छ और हरित शहर को बढ़ावा देने के लिए सभी धावकों को जैविक टी-शर्ट दिए गए। 5 किलोमीटर की दौड़ में शामिल होने वाले धावकों के बिब्स में बीज भी रखे गए, ताकि मैराथन के बाद वे वृक्षारोपण कर सकें।  
15 शहरों की एसबीआई ग्रीन मैराथन का तीसरा संस्करण याहान से कोलकाताए जयपुरए चंडीगढ़ए मुंबई और नई दिल्ली की यात्रा करेगा। जब की 9 मैराथन लखनऊए गुवाहाटीए तिरुवनंतपुरमए बैंगलोरए हैदराबादए भुवनेश्वरए चेन्नईए अहमदाबादए और पटना में सम्पन्न हो चुका है। एसबीआई ग्रीन मैराथन के लिए एसबीआई जनरल इंश्योरेंस हेल्थ पार्टनर है, जबकि एसबीआई लाइफ और एसबीआई म्यूचुअल फंड भी इस जीरो वेस्ट इवेंट में अहम योगदान दे रहे हैं।