अर्द्ध  सैनिक कल्याण बोर्ड गठन व एक्स मेन का दर्जा देने की मांग  


 कॉनफेडरेशन ऑफ एक्स पैरा-मिलिट्री फोर्सेस वेलफेयर एसोसिएशन ने प्रदेश में सैनिक कल्याण बोर्ड की तर्ज पर अर्द्धसैनिक कल्याण बोर्ड का गठन करने व सेवानिवृत अर्द्धसैनिकों को एक्स मेन का दर्जा दिए जाने की मांग की है। इसी तारतम्य में एसोसिएशन के एक प्रतिनिधिमंडल ने संगठन के महासचिव रणबीर सिंह के नेतृत्व में सोमवार को मुख्यमंत्री सचिवालय की विशेष कर्तव्यस्थ अधिकारी श्रीमती प्रज्ञा ऋचा श्रीवास्तव से मुलाकात कर उन्हें अपनी मांगों से संबंधित ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में कहा गया,कि 23 नवंबर 2012 को भारत सरकार द्वारा एक परिपत्र जारी कर राज्यों को अर्द्धसैनिक बलों के सेवानिवृत कर्मचारियों को एक्स सेंट्रल आम्र्ड पुलिस फोर्स पर्सनल का दर्जा दिए जाने व इन्हें संबंधित सुविधाएं प्रदान किए जाने के लिए निर्देशित किया गया है,लेकिन मप्र में इसका अब तक पालन नहीं किया जा सका। ज्ञापन में कहा गया,कि केंद्रीय सशस्त्र बल सीआरपीएफ,बीएसएफ,सीआईएसएफ,आईटीबीपी एवं एसएसबी  बलों के जवान अपने सेवाकाल के दौरान जटिल परिस्थितियों में भी देश की सेवा के लिए पहचाने जाते हैं। इनकी वीरता का इतिहास किसी से छिपा नहीं है. अपेक्षाकृत सीमित सुविधाओं में भी वे अपनी जान की परवाह किए बिना  देश की रक्षा के लिए समर्पित भाव से कार्य करते हैं लेकिन सेवानिवृति के बाद उन्हें उनके हाल पर छोड़ दिया जाना चिंताजनक है। प्रतिनिधिमंडल में एसोसिएशन के गंगा सिंह राजावत ,जयेंद्र सिंह राणा ,यूएस श्रीवास्तव, एसकेएस भदौरिया,रामबीर सिंह तोमर,सितंबर सिंह,रामसिंह चौहान व सुरेंद्र यादव भी शामिल थे।
जयेंद्र सिंह राणा