सिस्टेक मे ला-टे-क्स पर फैकल्टी डेवलेपमेंट प्रोग्राम आयोजित


भोपाल,फरवरी 12, 2020 : सागर इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी (सिस्टेक), रातीबड़ के डिपार्टमेंट ऑफ इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग विभाग ने दो दिवसीय ला-टे-क्स पर दो दिवसीय फैकल्टी डेवलेपमेंट प्रोग्राम आयोजित कियाट्रेनिंग प्रोग्राम आर.जी.पी.वी. द्वारा TEQIP-III के तहत प्रायोजित किया गया दो दिवसीय ट्रेनिंग प्रोग्राम का उद्देश्य IEEE मानक पेपर के अच्छे प्रारूप को विकसित करने के लिए सूचना और तकनीकों के बारे में जागरूकता पैदा करना था ला-टे-क्स एक उच्च गुणवत्ता टाइपसेटिंग सिस्टम है जिसमें तकनीकी और वैज्ञानिक प्रलेखन के उत्पादन के लिए डिज़ाइन की गई विशेषताएं शामिल हैं। यह वैज्ञानिक दस्तावेजों के संचार और प्रकाशन का एक मानक के साथ-साथ फ्री-सॉफ्टवेयर के रूप में उपलब्ध है। प्रशिक्षण कार्यक्रम का उद्घाटन मुख्य अतिथि डॉ एस सी चौबे समन्वयक TEQIP-III, आरजीपीवी भोपाल ने डॉ ज्योति देशमुख - प्रिंसिपल सिस्टेक रातीबड़ और विभागाध्यक्ष की उपस्थिति में किया जिसमे विशेषज्ञ वक्ता डॉ राजेश कुमार - प्रोफेसर, एचओडी, एम.एन.आई.टी. जयपुर, एनयूएस सिंगापुर से पीडीएफ, डॉ आकाश सक्सेना -प्रोफेसर, हेड, एसकेआईटी, जयपुर ने 50+ से अधिक फैकल्टी को बीमर के बारे में बताया और प्रेजेंटेशन से उन्हे सशक्त किया । डॉ ज्योति देशमुख - प्रिंसिपल सिस्टेक रातीबड़ और राहुल मिश्रा जनरल मैनेजर परिचालन ने वक्ताओं का आभार स्मृति चिन्ह पेश कर प्रकट किया।


NitishTalwar


Popular posts from this blog

Madhya Pradesh Tourism hosts its first Virtual Road Show

गूगल की नई AR  टेक्नोलॉजी से अब आप अपने घर बैठे किसी भी जानवर का 3D व्यू देखिये | 

अखिल भारतीय विद्दार्थी परिषद का मुख्यमंत्री को ज्ञापन।