राधारमण में शुरू हुई इंडियन कार्टिंग रेस


भोपाल। रातीबड़ स्थित राधारमण समूह परिसर में आज नजारा एकदम बदला हुआ था। समूह की सड़कों व ग्राउंड पर जगह-जगह काॅलेज स्टूडेंट्स द्वारा डिजाइन की गई कारें दौड़ लगाती नजर आ रहीं थीं। मौका था 21 से 23 जनवरी तक होने वाली इंडियन कार्टिंग रेस जिसका आयोजन इम्पीरियल सोसायटी आफ इनोवेटिव इंजीनियर्स के सहयोग से किया जा रहा है। पर्यावरण मित्र तकनीक को बढ़ावा देने के उद्देश्य से आयोजित इस प्रतियोगिता में 19 राज्यों में स्थित विभिन्न इंजीनियरिंग कॉलेजों की 50 से अधिक टीमें हिस्सा ले रही हैं। विजेताओं के चयन के लिए महिन्द्रा एंड महिन्द्रा, टीवीएस, बाॅश, रेनो, अशोक लीलेंड, हीरो एवं टेक इम्पीरियल कंपनी के विशेषज्ञ बतौर जज भूमिका निभा रहे हैं।  
इस रेस का औपचारिक उद्घाटन क्षेत्रीय।विधायक श्री रामेश्वर शर्मा, राजीव गाँधी टेक्निकल यूनिवर्सिटी के वाईस चांसलर प्रोफेसर सुनील कुमार गुप्ता,  राधारमण समूह के चेयरमेन आर आर सक्सेना  इम्पीरियल सोसायटी आफ इनोवेटिव इंजीनियर्स के अध्यक्ष विनोद गुप्ता  ने हरी झंडी दिखाकर किया। 
इस अवसर पर श्री शर्मा ने कहा कि इस प्रकार का आयोजन भोपाल सहित प्रदेश के लिए भी प्रसन्नता की बात है। इन आयोजनों से युवा विद्यार्थियों के भीतर छिपी प्रतिभा को उजागर होने का अवसर मिलता है।
श्री  सुनील कुमार गुप्ता ने कहा कि प्रतियोगिता में भाग ले रही सभी प्रतिभागियों को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि वे इसी तरह खोज एवं अनुसंधान में लगे रहें ताकि आने वाले समय में वे देश को पर्यावरण के अनुकूल वाहनों के विकल्प दे सकें।
राधारमण समूह के चेयरमेन आर आर सक्सेना ने कहा कि उनका समूह सदैव विद्यार्थियों की जिज्ञासाओं के समाधान खोजने की प्रवृत्ति को बढ़ावा देता रहा है। यही वजह है कि समूह के विद्यार्थियों की अनेक खोजों को राष्ट्रीय स्तर पर पहचान मिली है।
प्रतियोगिता के पहले दिन प्रतियोगियों ने अपना बी प्लान तथा कॉस्ट रिपोर्ट प्रजेंट की। इसके बाद रेस में भाग लेने आ रही कार्ट्स का टेक्निकल परीक्षण किया गया। जिन अन्य परीक्षणों से कार्ट्स व उनके ड्रायवर्स को गुजारा गया उनमें वेट व विजन टेस्ट, डिजाइन एंड इनोवेशन, बिजनेस व स्टेटिक कॉस्ट, ब्रेक टेस्ट तथा एक्सीलरेशन प्रमुख थे। तीन दिवसीय आयोजन के अंत में एक भव्य पुरस्कार वितरण समारोह आयोजित किया जाएगा जिसमें विजेता टीमों को पुरस्कृत किया जायेगा।  













Prakash Patil
















 


 


 


 


 


 


Popular posts from this blog

Madhya Pradesh Tourism hosts its first Virtual Road Show

गूगल की नई AR  टेक्नोलॉजी से अब आप अपने घर बैठे किसी भी जानवर का 3D व्यू देखिये | 

अखिल भारतीय विद्दार्थी परिषद का मुख्यमंत्री को ज्ञापन।