लोगों को घर घर जाकर समझाएँगे तम्बाकू के दुष्परिणाम 

नशा मुक्ति के लिए राज्य का सबसे बड़ा अभियान


कैंसर को मात देने दिव्यजीवन संस्था द्वारा " महत्व हेल्थ केयर वैन" का शुभारंभ



भोपाल: तम्बाकू की वजह से भारत में हर साल 10 लाख लोग कैंसर के शिकार होते हैं। यह देखते हुए  डॉ. दिव्या भरथरे , डॉ. संस्कार सोनी , डॉ. ज़हीर कुरैशी, डॉ आतिफ़, डॉ. ओसिम, डॉ. आमिर ने " दिव्यजीवन महत्व वैन" के बारे में सोचा। 


दिव्यजीवन महत्व वैन का उद्धगाटन श्री शिवम् पर हुआ जिसमें डॉ. ज़हीर कुरैशी,  सय्यद मोहमद ओतीफ, घनशयाम सोनी, सीमा भरथरे, हरीश मंत्री व दिव्यजीवन संस्था के  सदस्य उपस्थित थे। दिव्यजीवन संस्था के संस्थापक डॉ. संस्कार सोनी व डॉ. दिव्या भरथरे ने बताया कि कैंसर जेसी ख़तरनाक बीमारी के इलाज में परिवार के सारे पैसे तो ख़त्म हो ही जाते हैं बल्कि अपने क़रीबी को खो भी देते हैं। इसी को देखते हुए " दिव्यजीवन संस्था " *महत्व हेल्थ केयर वैन* के माध्यम से घर- घर , गाँव - गाँव जाकर डॉक्टर  लोगों को तम्बाकू के दुष्परिणामों के बारे में जानकारी तो देंगे ही बल्कि वही उसी जगह उनका इलाज भी शुरू करेंगे ओर ज़रूरी दवाइयाँ भी देंगे साथ ही तम्बाकू कैसे छोड़े ओर उसकी जगह क्या खाये ताकि तम्बाकू की लत फिर से ना लगे ये भी बताएँगे । 


महत्व नाम ही क्यों ? 


डॉ. दिव्या भरथरे ने बताया की दिव्यजीवन संस्था अपनी इस वैन के माध्यम से लोगों को तम्बाकू न खाने का महत्व, बच्चों को पढ़ाई का महत्व, भ्रूणहत्या ना करने का महत्व, लोगों को महिला सुरक्षा का महत्व, बच्चों व उनके माता पिता को न्यूट्रीशन का महत्व, महिलाओं को महावॉरी में स्वच्छता का महत्व जेसी अनेक महत्वपूर्ण बातें बताएगी। 


दिव्यजीवन महत्व वैन  का उद्देश्य-



  1. दिव्यजीवन महत्व वैन के माध्यम से तम्बाकू , सिगरेट से होने वाली गम्भीर बीमारियों  के बारे में गाँव गाँव जाकर जानकारी दी जाएगी व लोगों को जागरूक किया जाएगा। 

  2. इस वैन के माध्यम से  कच्ची बस्तियों, जुग्गियो, गाँवों, शहरों में रहने वाले उन व्यक्तियों का  इलाज होगा , जिनको कैन्सर से पूर्व होने वाली गम्भीर बीमारी की सम्भावना हैं । इन बीमारियों में osmf, ल्यूकोप्लेकिया , लाइकेन प्लानस आदि अनेक बीमारिया है जो आगे चलकर कैन्सर में परिवर्तित हो जाती हैं।

  3. दिव्यजीवन महत्व वैन एसे बच्चों के लिए भोजन का प्रबंध करेगी जो शारीरिक रूप से कमज़ोर हैं। 

  4. HIV मरीज़ों के लिए इस वैन में विशेष सुविधाएँ रहेंगी। 

  5. अन्य भी कई स्वास्थ्य सम्बंधित समस्याओं व बीमारियों का इलाज इस वैन के माध्यम से किया जाएगा । 

  6. गाँवों में दिव्यजीवन चल विध्यालय से शिक्षा भी दी जाएगी।