अखिल भारतीय आदिवासी युवक युवती परिचय सम्मेलन संपन्न

छ ग की राज्यपाल सुश्री अनुसूईया उइके मुख्य अतिथि के रूप मे कार्यक्रम मे शामिल हुई


 

भोपाल:आदिवासी सेवा मंडल द्वारा अखिल भारतीय आदिवासी युवक युवती परिचय सम्मेलन बडे ही हर्षोल्लास के साथ भोपाल मे संपन्न हुआ। सम्मेलन मे लगभग एक हज़ार युवक युवती सम्मिलित हुए। कार्यक्रम मे मुख्य अतिथि के रूप मे बोलते हुए छ ग की राज्यपाल सुश्री अनुसूईया उइके ने कहा कि आदिवासी समाज ने देश के विकास मे निरंतर योगदान दिया है। आदिवासी समाज के विकास के बिना हमारे राष्ट्र का विकास संभव नही है। सुश्री अनुसूईया उईके ने कहा कि मैंने आदिवासी समाज के लोगो का हरसंभव मदद करने का प्रयास किया है और आगे भी करती रहूँगी। मुझे गर्व है कि मै आदिवासी समाज से हू और मै नही बल्कि आदिवासी समाज की एक बेटी राज्यपाल है। आदिवासी समाज ने आज़ादी की लड़ाई मे भी अपना योगदान दिया है। कार्यक्रम को संबोधित करने वालों मे विधायक श्री योगेन्द्र सिह बाबा ,डी आई जी अशोक गोंड, आदिवासी कॉंग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय शाह, पी डब्लू डी के सचिव पी सी बारास्कर, भोपाल जेल अधीक्षक दिनेश नरगावे, मोहिन्द्र सिह कँवर,नगर निगम के अपर आयुक्त कमल सोलंकी, पार्षद गिरीश शर्मा, पार्षद संतोष कन्साना भी रहे। इस अवसर पर संजू वाडिवा के द्वारा सांस्कृतिक प्रस्तुति भी दी गई। इस अवसर पर श्री पी सी बारस्कर, डॉ सुरेश कुबरे, श्री यादवराज पैग़ाम जी का सम्मान भी हुआ। साथ ही समाज के स्मारिका एवं कैलेंडर का भी विमोचन हुआ। मप्र, छग, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, बिहार और महाराष्ट्र के प्रतिनिधिगण कार्यक्रम मे सम्मिलित हुए। इस अवसर पर केन्द्र सरकार और म प्र सरकार द्वारा आदिवासी समाज के हित मे चलाई जा रही योजनाओं के बारे मे भी बताया गया ताकि आदिवासी समाज के लोग लाभान्वित हो सके। आदिवासी सेवा मंडल द्वारा यह आयोजन पंद्रहवे वर्ष भी हुआ है। इस अवसर पर मनोहर सिह ठाकुर, चंद्रा सर्वटे, डॉ दीपक मरावी, डॉ राकेश जगत, डॉ सुरेश उइके, दिलीप सिह मरकाम ,समेत समाज के प्रदेश स्तर के 25 संगठनों के अध्यक्ष एवं समस्त कार्यकारिणी सदस्य उपस्थित रहे।

प्रकाश सिह ठाकुर

महासचिव

आदिवासी सेवा मंडल,भोपाल


 

 


 


 


 


 


 


 


Popular posts from this blog

Madhya Pradesh Tourism hosts its first Virtual Road Show

गूगल की नई AR  टेक्नोलॉजी से अब आप अपने घर बैठे किसी भी जानवर का 3D व्यू देखिये | 

अखिल भारतीय विद्दार्थी परिषद का मुख्यमंत्री को ज्ञापन।