ओरियंटल व यूआईटी आरजीपीवी ने जीते मुकाबले

15 वीं राधारमण नोडल क्रिकेट टूर्नामेंट





भोपाल। राधारमण समूह की रातीबड़ स्थित परिसर में चल रहे 15वें आरजीपीवी-राधारमण नोडल क्रिकेट टूर्नामेंट के तीसरे दिन टीआईटी-एस व ओरियंटल काॅलेज तथा यूआईटी-आरजीपीवी और पटेल काॅलेज के बीच मुकाबले हुए। इन मुकाबलों में ओरियंटल व यूआईटी आरजीपीवी की टीमें विजेता रहीं। आज के मुकाबलों का औपचारिक उद्घाटन राधारमण इन्स्टीट्यूट आॅफ टेक्नालाॅजी एंड साइंस के डायरेक्टर प्रोफेसर आर के पांडे एवं एचओडी-मैकेनिकल प्रोफेसर अजय सिंह ने खिलाड़ियों का परिचय प्राप्त कर किया।
राधारमण समूह की रातीबड़ स्थित परिसर में चल रहे 15वें आरजीपीवी-राधारमण नोडल क्रिकेट टूर्नामेंट के तीसरे दिन टूर्नामेंट का पहला मैच टीआईटी-एस व ओरियंटल काॅलेज के बीच हुआ जिसमें ओरियंटल काॅलेज ने टाॅस जीतकर पहले फील्डिंग करने का निर्णय लिया। बैटिंग करने उतरी टीआईटी-एस की टीम ने 14 ओवरों में आलआउट होकर मात्र 57 रन बनाए। प्रयाग विश्वकर्मा टीम के एकमात्र बल्लेबाज रहे जिन्होंने दो चौके व एक छक्के की सहायता से सर्वाधिक 24 रन बनाए। बाकी बल्लेबाजी एक के बाद एक पवेलियन लौटते चले गए। टीआईटी-एस की 57 रनों की चुनौती को ओरियंटल की टीम ने बड़ी आसानी से 8.3 ओवरों में केवल 1 विकिट के नुकसान के साथ पूरा कर जीत दर्ज कराई। नाबाद रहे दीपांशु दुआ ने 28 बालों में 4 चौके की मदद से शानदार 25 रन बनाए। ओरियंटल काॅलेज के करण को मैन ऑफ द मैच का खिताब दिया गया। उन्होंने अपनी शानदार गेंदबाजी से टीम के लिए 2 विकिट हासिल किए।
दूसरा मुकाबला यूआईटी-आरजीपीवी व पटेल काॅलेज के बीच खेला गया। पटेल काॅलेज ने टाॅस जीतकर फील्डिंग का फैसला किया। निर्धारित 15 ओवरों में यूआईटी-आरजीपीवी ने 8 विकिट खोकर 92 रन का अच्छा स्कोर खड़ा किया। इसमें अक्षत के 19 व मोहम्मद कौसर के 17 रनों का अहम योगदान रहा।  इस लक्ष्य का पीछा करने उतरी पटेल काॅलेज की टीम 9 विकिट खोकर 76 रन ही बना सकी और मुकाबला हार गई। पटेल काॅलेज की ओर से असीम खान तथा इमरान अहमद ने क्रमशः 15 और 9 रन का योगदान दिया। यूआईटी-आरजीपीवी के विपिन मिश्रा को मैन ऑफ द मैच का खिताब दिया गया  


Popular posts from this blog

Madhya Pradesh Tourism hosts its first Virtual Road Show

गूगल की नई AR  टेक्नोलॉजी से अब आप अपने घर बैठे किसी भी जानवर का 3D व्यू देखिये | 

अखिल भारतीय विद्दार्थी परिषद का मुख्यमंत्री को ज्ञापन।