आयुष और वेलनेस का आयोजन १९ दिसम्बर से वाराणसी में

'इंटरनैशनल आरोग्य २०१९' दूसरें आंतरराष्ट्रीय प्रदर्शनी और सम्मेलन, आयुष और वेलनेस का आयोजन १९ दिसम्बर से वाराणसी में


·        वाराणसी के बनारस हिंदू युनिवर्सिटी में १९-२२ दिसम्बर २०१९ इन चार दिनों के दौरान प्रदर्शनी और सम्मेलन का आयोजन होगा


·        आयुष मंत्रालय, व्यापार मंत्रालय, वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय, फिक्की और फार्मेक्सिल द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में वैश्विक संदर्भ में आयुष की शक्ती तथा उनकी वैज्ञानिक मान्यताओं के बारें में जानकारी दी जाएगी


·        बनारस हिंदू युनिवर्सिटी में आयोजित इस विशाल प्रदर्शनी में आयुर्वेद, योग, नैचरोपथी, युनानी,सिध्दा, सोवा-रिगापा और होमिओपैथी के प्रसार,विकास और मान्यताओं का प्रसार किया जाएगा


·        विश्व के ६० से अधिक देशों से आए आंतराष्ट्रीय शिष्टमंडल और खरीददार होंगे शामिल


 


वाराणसी, १२ ‍दिसम्बर २०१९-   दुसरें इटरनैशनल कॉन्फरेन्स एन्ड एक्झिबिशन, आयुष एन्ड वेलनेस 'इंटरनैशनल आरोग्य २०१९' का आयोजन वाराणसी में १९-२२ दिसम्बर २०१९ के दौरान किया जा रहा है.   चार दिन चलनेंवाले इस सम्मेलन और प्रदर्शनी का आयाजन फेडरेशन ऑफ इंडियन चेंबर्स ऑफ कॉमर्स एन्ड इंडस्ट्री (फिक्की) द्वारा भारत सरकार के आयुष मंत्रालय, भारत सरकार के  वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय और फार्मेक्सिल के सहयोग से किया जा रहा है. 


 'न इंटिग्रेटेड सिस्टम ऑफ हेल्थकेअर एन्ड वेलनेस फॉर दि वर्ल्ड' इस विषय पर आधारीत इस कार्यक्रम में वैश्विक संदर्भ में आयुर्वेद, योग और नैचरोपथी, युनानी,सिध्दा, सोवा-रिगापा और होमिओपैथी (आयुष) की शक्ती तथा उनकी वैज्ञानिक मान्यताओं के बारें में तथा उनके विश्वभर में प्रसार, विकास और मान्यताओं के बारें में जानकारी दी जाएगी.


 


फिक्की आयुष कमेटी के चेअरमन और श्री श्री तत्व के व्यवस्थापकीय संचालक श्री अरविंद वर्चस्वी नें कहा “ नैसर्गिक तथा समग्र स्वास्थ्य उपचार और उपायों के लिए सारा विश्व भारत  ओर देख रहा है.  इंटरनैशनल आरोग्य २०१९ के माध्यम से अब व्यवसाय तथा गठजोड के लिए  वैश्विक भागिदारों के लिए द्वार खोल दिए गए है विशेष रूप से नयी दवाईयों के संशोधन और विकास के लिए.  फिक्की और भारत सरकार दोनो एक साथ काम करतें हुए दवाईयों की आयुष पध्दती के मौके दुनिया के सामने रखनें का प्रयास कर रहें है.”  


 


इंटरनैशनल आरोग्य २०१९ में प्रदर्शनी के साथ आयोजित सम्मेलन में संगोष्ठि और परिचर्चा का भी आयोजन किया गया है,  इन में इंडियन सीईओ राऊंड टेबल, मेनस्ट्रीम ब्रान्ड थ्रु ग्लोबल स्ट्रैटेजिज, इंटिग्रेशन ऑफ आयुष सर्विसेस इन मॉडर्न हेल्थकेअर, ग्लोबल  ‍रिजाईम एन्ड स्टैन्डर्डाईजेशन ऑफ आयुष प्रॉडक्ट्स एन्ड सर्विसेस, वैल्यू चेन इंटिग्रेशन एन्ड प्रोवाईडिंग क्वालिटी रॉ मटेरिअल्स और प्रिवेन्शन एन्ड मैनेजमेंट ऑफ अर्बन लाईफस्टाईल डिसिजेस का समावेश है.


 


दिसम्बर २०१७ में यशस्वी आयोजन करनें के बाद इंटरनैशनल आरोग्य २०१९ में विशाल मात्रा में भारत तथा दुनिया भर के ६० से अधिक देशों से आए मान्यवर तथा खरीददार भाग लेंगे,  इन में आयातक,नियामक और सरकारी अधिकारीयों का समावेश है.


 


आंतरराष्ट्रीय सम्मेलन में अल्टरनेटिव मेडिसिन क्षेत्र में काम करनेंवाले २५० से अधिक उत्पादक सहभागी होकर उनके उत्पादन और सेवाओं को लोगों के सामने पेश करेंगे.  इस विशाल आयोजन में आयुष क्षेत्र से संबंधित सभी महत्त्वपूर्ण घटक एक ही छत के नीचें आकर आयुष उत्पादनों की निर्यात बढानें हेतु सहभागी होंगे तथा भारत में अल्टरनेटिव मेडिसिन सिस्टम के संशोधन और विकास के बारें में जानकारी देकर विश्व में सबसे गतीशीलता से बढनेंवाले इस क्षेत्र के बारें में जानकारी देंगे.