सारथी को मिला रेलवे बोर्ड का व्दितीय पुरस्कार

श्री नितिन मराठे द्वारा लिखित पुस्तक 

   
        मण्डल रेल प्रबंधक कार्यालय,हबीबगंज में मुख्य लोको निरीक्षक के पद पर कार्यरत श्री नितिन मराठे द्वारा लिखित पुस्तक सारथी को रेलवे बोर्ड लाल बहाुदर शास्त्री तकनीकी मौलिक लेखन वर्ष.2019 का व्दितीय पुरस्कार मिला है। श्री मराठे को प्रशस्ति पत्र के साथ  रु. 10,000 का नगद पुरस्कार भी प्रदान किया जायेगा। इस पुस्तक में लोको रनिंग स्टॉफ के सुपरवाइजरों व मुख्य लोको निरीक्षक के कार्य प्रणाली के बारे में लिखा गया है। 
        आपकी पुस्तक रेल के हीरो लोको पायलट/ सहायक लोको पायलट के मार्गदर्शन हेतु लिखी गई थी। वर्ष.2018 में इसे भी लाल बहाुदर शास्त्री तकनीकी मौलिक लेखन रेलवे बोर्ड का तृतीय पुरस्कार दिया गया था। इस पुस्तक में लोको रनिंग स्टॉफ को उत्तम गाड़ी परिचालन की कार्य प्रणाली एवं भारतीय रेल को उन्नति के पथ पर ले जाने के लिये लिखा गया था।
         श्री नितिन मराठे लोको पायलटों को ट्रेन चलाना सिखाते है। इनके द्वारा सदैव भारतीय रेल की सेवा में तत्पर रहकर तथा भारतीय रेल को सुरक्षा एवं सरंक्षा के साथ यात्री गाड़ी एवं मालगाड़ी को द्रृतगति से चलाते हुये अपने गंतव्य तक पहुॅचाने का प्रयास करने के लिये प्रोत्साहित किया गया है। श्री मराठे ने भारतीय रेल पर 31 वर्ष की सेवा पूर्ण कर ली है। 
        इसके अतिरिक्त गायन में विशारद श्री मराठे मण्डल सांस्कृतिक अकादमी के प्रमुख कलाकार है। आप मण्डल की ओर से समय-समय पर चलाये गये यात्री जागरूकता अभियानों में एवं नुक्कड़ नाटकों में प्रमुखता से योगदान देते हैं। आप भोपाल के विभिन्न शासकीय विद्यालयों में बच्चों के लिये देशभक्ति के एकल कार्यक्रम कर बच्चों को प्रोत्साहित करते रहते हैं। 
    जनसम्पर्क अधिकारी,प0म0रेल,भोपाल