मध्यप्रदेश का पहला सतत विकास लक्ष्य अभियान यूथ फॉर ट्रांस्फोर्मिंग एजुकेशन प्रारंभ


सीहोर | म.प्र. | विश्व द्वारा मनाए जा रहे “ग्लोबल वीक टू एक्ट फॉर एसडीजी” के तहत भारत सहित विश्व के सभी देश सतत विकास लक्ष्यों की पूर्ति के लिए नवाचार कर रहे हैं | इसी श्रृंखला में युवा नेतृत्वकर्ता और रिकॉर्ड धारक समाजसेवी उमेश पंसारी ने प्रदेश के पहले सतत विकास लक्ष्य अभियान यूथ फॉर ट्रांस्फोर्मिंग एजुकेशन की शुरुआत की, जिसका शुभारम्भ एवं पोस्टर विमोचन शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय सीहोर के एन.एस.एस. अभिमुखीकरण में किया गया | विमोचन जनसंपर्क अधिकारी अनुभा सिंह, एन.एस.एस. अधिकारी देवेन्द्र राय, प्राचार्य आर.के.बांगरे एवं युवा वक्ता जयंत दासवानी के मुख्य आतिथ्य में संपन्न हुआ | इस अभियान में 20 रासेयो स्वयंसेवक शामिल हैं, जिनका उद्देश्य 2000 छात्रों को शिक्षा के स्तर में सुधार करने के लिए जागरूक करना है | अभियान के अंतर्गत उमेश एवं अन्य युवा पांच से अधिक गांवों को शिक्षित करेंगे | उल्लेखनीय है कि उमेश ने हाल ही में सतत विकास लक्ष्य के अंतर्राष्ट्रीय सम्मलेन नेपाल में भारत का प्रतिनिधित्व किया साथ ही संयुक्त राष्ट्र स्वयंसेवक के रूप में वैश्विक अभियानों जैसे बीट प्लास्टिक पौल्युशन, बीट एयर पौल्युशन आदि में सक्रिय सहभागिता की है |


उमेश को मिली ये उपलब्धियां


उच्च शिक्षा विभाग द्वारा राज्य स्तर एन.एस.एस. अवार्ड


मुख्यमंत्री द्वारा एक भारत श्रेष्ठ भारत हेतु राजकीय सम्मान


क्वीन्स कॉमनवेल्थ एस्से लन्दन में 2018 में सिल्वर एवं 2019 में गोल्ड अवार्ड प्राप्त किया


वर्ल्ड यूथ एस्से कम्पटीशन जर्मन में फाइनलिस्ट अवार्ड


केंद्रीय भूमि जल बोर्ड राष्ट्रीय निबंध में प्रथम


यूएस फेडरेशन ऑफ़ यूनेस्को प्रेसिडेंट द्वारा धन्यवाद पत्र


असिस्ट एवं इंडिया बुक ऑफ़ रिकार्ड्स


राष्ट्रीय साहसिक गतिविधि शिविर मनाली, हि.प्र. में शिविर का नेतृत्व


यूथ एक्सचेंज प्रोग्राम मणिपुर एवं नागालैंड में प्रदेश का प्रतिनिधित्व


एक भारत श्रेष्ठ भारत राष्ट्रीय निबंध में प्रथम


ग्लोबल प्लेटफार्म पर रजिस्टर हुआ अभियान


यूथ फॉर ट्रांस्फोर्मिंग एजुकेशन अभियान सतत विकास लक्ष्य के वैश्विक गतिविधि प्लेटफार्म पर रजिस्टर हो चुका है, जो कि मध्यप्रदेश की भागीदारी वैश्विक स्तर पर सुनिश्चित करता है |