जाना सतत शिक्षा का महत्व, प्लास्टिक के बहिष्कार की ली शपथ





सीहोर | प्रदेश के पहले सतत विकास लक्ष्य अभियान “यूथ फॉर ट्रांस्फोर्मिंग एजुकेशन 2019” के अंतर्गत सीहोर स्थित ग्राम बकतल के शासकीय माध्यमिक विद्यालय में लगभग 120 बच्चों को युवाओं ने व्यावहारिक शिक्षा और किताबी ज्ञान के साथ प्रत्येक विषय की व्यावहारिक समझ के बारे में जागरूक किया | अभियान के संचालक उमेश पंसारी ने युवा गीत और हिंदी भाषा की कविता के माध्यम से सतत विकास के महत्त्व को समझाया | निहारिका एवं निधि ने प्रेरक कहानियों से स्वच्छता और साहस का परिचय दिया | अभियान में विशेषकर तरुण, शैलेन्द्र, आशीष, स्वाति, देव और किरण सहित 20 युवा मुख्य समूह में उपस्थित थे | उल्लेखनीय है कि रा.से.यो. एवं उत्कृष्ट विद्यालय सीहोर द्वारा समर्थित “यूथ फॉर ट्रांस्फोर्मिंग एजुकेशन 2019” ग्लोबल एसडीजी पोर्टल पर संयुक्त राष्ट्र द्वारा “ग्लोबल वीक टू एक्ट फॉर एसडीजी” के तहत पंजीकृत किया जा चुका है | नेपाल के वैश्विक सम्मलेन से लौटे युवा नेतृत्वकर्ता उमेश ने यह अभियान क्वालिटी एजुकेशन हेतु चलाया है |




 
























उमेश पंसारी